ऑनलाइन शॉपिंग की लत से हो सकती है यह बीमारी, जानें लक्षण

ऑनलाइन शॉपिंग की लत से हो सकती है यह बीमारी, जानें लक्षण

PUBLISHED : Nov 22 , 7:28 AMBookmark and Share



आमतौर पर देखा जाता है कि भागती-दौड़ती जिंदगी में हमारे पास ज्यादा वक्त नहीं बचता है। ऐसे में हम में से बहुत से लोग लोकल मार्केट में जाने की बजाय ऑनलाइन शॉपिंग (online shopping) करना बेहतर समझते हैं। धीरे-धीरे वो ऑनलाइन शॉपिंग पर इतने निर्भर हो जाते हैं कि हर छोटी-छोटी चीजें भी ऑनलाइन मंगवाने लगते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऑनलाइन शॉपिंग आपके लिए घातक हो सकती है। रिसर्च के अनुसार ज्यादा ऑनलाइन शॉपिंग एक मानसिक रोग की स्थिति भी हो सकती है।

 

बायइंग शॉपिंग डिसऑर्डर (buying shopping disorder) क्या है
आपको यकीन नहीं होगा कि लेकिन बड़ी संख्या में लोग इस ऑनलाइन शॉपिंग की लत से छुटकारा पाने के लिए ट्रीटमेंट के लिए भी आते हैं। ऐसे ही 122 लोगों की जब जांच की गई तो पाया गया कि इनमें से 34 प्रतिशत मरीजों में ऑनलाइन शॉपिंग का एडिक्शन हद से ज्यादा था, जिस वजह से उनमें ऐंग्जाइटी यानी बेचैनी और डिप्रेशन के लक्षण भी नजर आ रहे थे। जर्मनी के हैनोवर मेडिकल स्कूल के अनुसंधानकर्ताओं की मानें, तो अब समय आ गया है जब बायइंग शॉपिंग डिसऑर्डर यानी BSD को अलग से क्लासीफाई किया जाए। साथ ही इसे एक अलग मेंटल हेल्थ कंडिशन मानकर इसके बारे में और जानकारी इकट्ठा की जाए।

 

इसका सबसे बड़ा लक्षण
इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति जितना अफोर्ड कर सकता है उससे भी ज्यादा की खरीददारी करने लगता है। इस वजह से व्यक्ति को तंगी हो जाती है, परिवार में समस्याएं होने लगती है और घर में बेवजह का सामान भी इकट्ठा होने लगता है, तो अगर आपके या आपके किसी करीबी के सामने ऐसे कोई हालात आएं, तो उन्हें आगाह जरुर कर दीजिए। 
साभार

लाइफ स्टाइल

सेहत के लिए वरदान हैं ये हरी सब्जियां, रोजाना पिएं...

PUBLISHED : Jan 17 , 10:15 PM

जिन लोगों को हरी सब्जियां अच्छी नहीं लगती, वे लोग इसका जूस पी सकते हैं। वैसे भी आजकल लोगों में हरी सब्जियों का जूस पीने ...

View all

साइंस

मंगल ग्रह पर अपेक्षाकृत ज्यादा तेजी से घट रहा पानी...

PUBLISHED : Jan 17 , 10:20 PM

लंदन, 10 जनवरी (भाषा) मंगल ग्रह पर पानी उन अनुमानों के मुकाबले बहुत तेजी से घट रहा है जो सिद्धांतों के साथ-साथ पूर्व के ...

View all

वीडियो

View all

बॉलीवुड

Prev Next