बचपन से घर में पढ़ने वाले बच्चों के आते हैं अच्छे अंक

बचपन से घर में पढ़ने वाले बच्चों के आते हैं अच्छे अंक

PUBLISHED : Jul 11 , 7:56 AMBookmark and Share



बच्चों को उम्र के पहले पड़ाव में ही अगर घर में पढ़ने का वातावरण मिले तो किशोरावस्था में उनकी परीक्षा के ग्रेड अच्छे हो सकते हैं। एक हालिया शोध में यह दावा किया गया है।.

पत्रिका स्कूल इवेक्टिवनेस एंड स्कूल इंप्रूवमेंट में प्रकाशित शोध में दिखाया गया है कि जिन प्री स्कूल जाने वाले बच्चों के माता-पिता लगातार पढ़ते हैं और बच्चों से किताबों के बारे में बात करते हैं, वह 12 साल की उम्र में गणित की परीक्षा में बेहतर स्कोर प्राप्त कर सकते हैं।.

यूनिवर्सिटी ऑफ बामबर्ग की शोधकर्ता सिमोन लेहर्ल ने कहा, हमारे शोध के परिणाम के अनुसार अगर बच्चों को कम उम्र में घर पर ही किताबों से रूबरू करवा दिया जाता है तो इससे न सिर्फ उनकी शिक्षा बेहतर होती है बल्कि गणित में भी बेहतर पकड़ हो सकती है। बचपन में सीखे गए भाषाई कौशल बच्चों में पढ़ने की क्षमता बढ़ने के साथ उनकी गणित की दक्षता भी बढ़ाती है।

जर्मनी में 3 साल के 229 बच्चों पर यह शोध किया गया। इन बच्चों पर 3 साल की उम्र से लेकर माध्यमिक कक्षा तक शोध किया गया। इस दौरान प्रतिभागियों की शैक्षिक और गणना की दक्षता का सालाना परीक्षण किया गया।

लाइफ स्टाइल

बचपन में होने वाले फ्लू का बाद में पड़ता है असर

PUBLISHED : Feb 14 , 11:05 PM

यूसीएलए और एरिजोना यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने फ्लू के वायरस से लड़ने के लिए लोगों की क्षमता का अध्ययन किया है। अध्ययन...

View all

साइंस

7डी टेक्‍नोलॉजी से तैयार हुआ मॉडल और 4 साल पहले मर...

PUBLISHED : Feb 14 , 11:12 PM

एक मां को इसी 7D तकनीक के सहारे उसकी 4 साल पहले मर चुकी बेटी से मिलवाया गया. इस लड़की की मौत 2016 में हो गयी थी लेकिन इन ...

View all

वीडियो

View all

बॉलीवुड

Prev Next