केदारनाथ मंदिर के कपाट 9 मई को खुलेंगे

केदारनाथ मंदिर के कपाट 9 मई को खुलेंगे

PUBLISHED : Apr 24 , 9:31 AMBookmark and Share




देहरादून। उत्तराखंड स्थित विश्वप्रसिद्ध हिमालयी धाम केदारनाथ के कपाट इस साल नौ मई को श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खोल दिए जाएंगे।
बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के सूत्रों ने बताया कि महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर केदारनाथ मंदिर के कपाट नौ मई को सुबह सात बजे श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खोलने का मुहूर्त निकाला गया। भगवान शिव के शीतकालीन प्रवास स्थल उखीमठ में स्थित ओंकारेश्वर मंदिर में मुख्य पुजारी भीमाशंकर लिंग ने धर्माधिकारियों की मौजूदगी में मुहूर्त की घोषणा की।
 
दस हजार फुट से ज्यादा की ऊंचाई पर रुद्रप्रयाग जिले में स्थित केदारनाथ मंदिर के कपाट पिछले वर्ष 13 नवंबर को श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिए गए थे।
 
केदारनाथ के कपाट खुलने की तिथि तय होने के साथ ही हिमालयी चार धाम के नाम से मशहूर सभी धामों के खुलने की तारीख घोषित हो चुकी है। चमोली जिले में स्थित बद्रीनाथ धाम के कपाट जहां 11 मई को खुल रहे हैं वहीं उत्तरकाशी जिले में स्थित गंगोत्री और यमुनोत्री मंदिर के कपाट भी अक्षय तृतीया के पर्व पर नौ मई को खुलेंगे।
 
शीतकाल के दौरान भारी बर्फबारी की चपेट में रहने के कारण चारों धामों के कपाट हर वर्ष अक्टूबर-नवंबर में श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिए जाते हैं, जो अगले साल अप्रैल-मई में दोबारा खोले जाते हैं।
 
चार धाम यात्रा को गढ़वाल हिमालय की आर्थिकी की रीढ़ माना जाता है और हर साल करीब छह माह तक चलने वाले यात्रा सीजन के दौरान देश-विदेश से लाखों श्रद्धालु और पर्यटक इन धामों के दर्शन के लिए पहुंचते हैं।
 
वर्ष 2013 के मध्य में आई भीषण प्राकृतिक आपदा के बाद चार धामों विशेष रूप से केदारनाथ मंदिर आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या में भारी गिरावट दर्ज की गई, लेकिन राज्य सरकार को उम्मीद है कि केदारनाथ तथा आसपास के क्षेत्रों में हुए पुनर्निर्माण के बाद फिर से यात्रा की रौनक लौट आएगी।

लाइफ स्टाइल

अगर रात में स्मार्टफोन पास रखकर सोते है तो जरूर प...

PUBLISHED : Dec 13 , 9:48 PM

स्मार्टफोन के अधिक उपयोग से हमारे मन की स्थिति तो प्रभावित हो ही रही है, अब इसका असर लोगों के यौन जीवन पर पड़ने की बात भी...

View all

साइंस

दुनिया में बढ़ती गर्मी से उजड़ सकता है मत्स्य जीवन...

PUBLISHED : Dec 13 , 10:01 PM

दुनिया में तेजी से हो रहे जलवायु परिवर्तन के कारण मत्स्य उद्योग और प्रवाल भित्ति पर्यटन बर्बाद हो सकता है जिससे वर्ष 205...

View all

वीडियो

View all

बॉलीवुड

Prev Next