पति न करें खुदकुशी, इसलिए महिलाओं ने संभाल ली खेती

पति न करें खुदकुशी, इसलिए महिलाओं ने संभाल ली खेती

PUBLISHED : May 05 , 11:13 AMBookmark and Share

पति न करें खुदकुशी, इसलिए महिलाओं ने संभाल ली खेती
 
सूखे का संकट और मौसम की मार से परेशान किसानों द्वारा आत्महत्या, इन दो समस्याओं से महाराष्ट्र पिछले काफी वक्त से जूझ रहा है। लेकिन इन विपरीत परिस्थितियों के बीच उस्मानाबाद के पास के कुछ गांवों के किसान परिवारों की महिलाओं ने अपने परिवार के संरक्षण और अपने पतियों को अात्महत्या से बचाने के लिए खुद ही खेती करने का फैसला लिया।
 
इस मुहिम से जुड़ी महिलाओं से बात करने पर पता चला कि, शुरुआत में पुरुषों ने महिलाओं की इस मांग का विरोध किया और कहा कि यह एक कठिन काम है, जो उनके बस का नहीं। इसके बाद महिलाओं ने किसी तरह अपने पतियों को इसके लिए तैयार किया कि, वह उन्हें जमीन का एक छोटा सा हिस्सा (लगभग 1,000 स्कवेयर फीट) दें, जिसमें वह खेती कर सकें। किसी तरह महिलाएं इस मांग को मनवाने में सफल हो गईं।
 
जमीन के इस छोटे से टुकड़े का इस्तेमाल उन्होंने बहुत बुद्धिमानी और तरकीब से किया और उस पर अपने पतियों से इतर कोई व्यवसायिक फसल उगाने के बजाय, कम पानी मांगने वाली फसलें उगाना शुरु किया। इन फसलों में मुख्य रूप से अनाज, दालें और सब्जियां शामिल थीं।
 
महिलाओं ने अपने कौशल का परिचय देते हुए, ऐसी फसलें ही उगाईं, जिन्हें पानी की कम आवश्यकता थी। इतना ही नहीं, केमिकल्स और फर्टिलाइजर्स के खर्चे से बचने के लिए उन्होंने रासायनिक खेती का सहारा लिया। इन तरकीबों के सहारे ही वह कम लागत और कम जमीन में भी ज्यादा मुनाफा पैदा करने में सफल हो सकीं।
 
इस उत्पादन से वह कम से कम अपने परिवार को पर्याप्त भोजन उपलब्ध कराने में तो सक्षम हो ही गईं। धीरे-धीरे उत्पादन बढ़ने के साथ, उन्होंने इस अनाज को पास के बाजार में बेचना भी शुरु कर दिया और उनकी मुहिम कमाई का जरिया भी बन गई और वक्त के साथ वह खेती के काम में अपने पतियों से आगे निकलने लगीं।
 
महिलाओं के इस असाधारण प्रयास और उनकी युक्तियों से सबक लेने के कई एमबीए के विद्यार्थियों ने इन महिलाओं से मुलाकात की और प्रबंधन के गुर सीखे, जो खुद भी ठीक ढंग से पढ़ी-लिखी नहीं हैं। अपने पतियों को अवसाद से बचाने और परिवार के संरक्षण के लिए साल 2012 से शुरु उनकी यह मुहिम हर संदर्भ में सराहनीय है।

लाइफ स्टाइल

Survey : घरों के परदों और सोफे से भी होती है सांस ...

PUBLISHED : Aug 17 , 2:40 AM

आमतौर पर माना जाता है कि सांस की बीमारी सिगरेट, बीड़ी पीने से होती है। पर, पिछले डेढ़ साल में हुए शोध के मुताबिक बिना धूम्...

View all

साइंस

न्यू जीलैंड में विशालकाय पेंग्विन के जीवाश्म मिले

PUBLISHED : Aug 17 , 3:12 AM

न्यू जीलैंड के दक्षिणी द्वीप पर एक वयस्क मनुष्य के आकार के बराबर एक विशालकाय पेंग्विन के जीवाश्म पाया गया है। वैज्ञानिको...

View all

वीडियो

View all

बॉलीवुड

Prev Next