कांग्रेस में राहुल का बढ़ा कद

PUBLISHED : Jan 20 , 9:55 PMBookmark and Share

कांग्रेस ने शनिवार को पार्टी महासचिव राहुल गांधी को पार्टी का उपाध्यक्ष नियुक्त किया। जयपुरClick here to see more news from this city में पार्टी के दो दिवसीय चिंतन शिविर के बाद कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक शुरू होते ही वरिष्ठ नेता एके एंटनी ने कहा कि कार्यवाही शुरू होने से पहले वे एक प्रस्ताव रखना चाहते हैं।
कार्यसमिति की बैठक के बाद पार्टी के मीडिया प्रभारी और महासचिव जनार्दन द्विवेदी ने बताया कि एंटनी ने प्रस्ताव रखा कि जनता की आकांक्षाओं को देखते हुए राहुल को पार्टी का उपाध्यक्ष बनाया जाए।
द्विवेदी के अनुसार पूरी कार्यसमिति ने मेजें थपथपाकर इस प्रस्ताव का स्वागत किया। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी प्रस्ताव पर हामी भरी और राहुल गांधी ने भी इसे स्वीकार कर लिया। उन्होंने कहा कि इस फैसले से पार्टी और मजबूत होगी।
 

एंटनी के प्रस्ताव में कहा गया था कि बहुत लंबे अरसे से कांग्रेस के सदस्य हैं और देश की जनता को राहुल गांधी से बहुत अपेक्षाएं हैं। वे उन्हें एक बड़ी भूमिका में देखना चाहते हैं। उन्होंने बताया कि 2014 में होने वाला लोकसभा चुनाव किस के नेतृत्व में लड़ा जाएगा, यह बाद में तय किया जाएगा।
43 वर्षीय राहुल को 2007 में पार्टी का महासचिव बनाया गया था। राहुल को उपाध्यक्ष बनाए जाने की औपचारिक घोषणा होने से एक घंटे पहले ही बिड़ला ऑडिटोरियम के बाहर कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लगने लगा था।
कार्यकर्ता रथ लेकर सभागार के बाहर पहुंच गए और राहुल गांधी के समर्थन में नारेबाजी करने लगे। ‘देश का नेता कैसा हो, राहुल गांधी जैसा हो’ जैसे नारे लगाए जा रहे थे।
राहुल को उपाध्यक्ष बनाए जाने की घोषणा होने के बाद कार्यकर्ता और बड़ी संख्या में एकत्रित हो गए तथा आतिशबाजी भी शुरू कर दी। इससे पहले आज कांग्रेस नेताओं ने संकेत दिया था कि चिंतन शिविर में राहुल गांधी को बड़ी जिम्मेदारी दिए जाने की औपचारिक घोषणा कल तक हो सकती है।
पार्टी के युवा नेता और केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का कहना था कि राहुल पहले ही बड़े-बड़े कदम उठा रहे हैं और कई बड़े फैसले करते आ रहे हैं। यहां चल रहे चिंतन शिविर में भी लगभग 60 प्रतिशत युवाओं की भागीदारी उन्हीं की पहल का नतीजा है।
जब कहा गया कि राहुल अनौपचारिक रूप से पार्टी में नंबर दो हैं और अधिकतर बड़े फैसलों में वे शामिल होते हैं, लेकिन औपचारिक रूप से उनके द्वारा पार्टी की अगुवाई करने की घोषणा कब होगी तो सिंधिया का जवाब था कि कल तक इंतजार कीजिए।

एक अन्य वरिष्ठ नेता और संसदीय कार्य राज्यमंत्री राजीव शुक्ला ने कहा कि यह लगभग निश्चित है कि 2014 के लोकसभा चुनाव की अगुवाई राहुल ही करेंगे। इस सवाल पर कि क्या उन्हें प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया जा सकता है, शुक्ला ने कहा कि ये सब बातें बाद में देखने की हैं और पार्टी अध्यक्ष इस बारे में फैसला करेंगी, लेकिन यह तय है कि वे आने वाले दिनों में बड़ी जिम्मेदारी निभाने जा रहे हैं।

एक अन्य युवा नेता एवं केन्द्रीय मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री जितिन प्रसाद ने कहा कि हम सबकी भावना है कि राहुल को पूरी जिम्मेदारी सौंपी जाए और हमें पूरी उम्मीद है कि कांग्रेस की इस तीन दिवसीय बैठक में ऐसा कोई औपचारिक फैसला किया जाएगा।

लाइफ स्टाइल

Health Tips : आजमा कर देखें, असरदार दवा है म्यूजिक...

PUBLISHED : Oct 10 , 7:06 PM

कल्पना कीजिए... सुबह-सुबह का समय... पक्षियों की चहचहाहट और हवा की मधुर सरसराहट के बीच आप भी बगीचे में ध्यान लगा रहे हैं,...

View all

साइंस

शनि के पास अब सबसे अधिक 82 चांद, वैज्ञानिकों ने की...

PUBLISHED : Oct 10 , 7:15 PM

सौर मंडल के ग्रहों में चांद की संख्या के आधार पर अब शनि ग्रह विजेता है। शनि पर वैज्ञानिकों ने 20 नए चांद पाएम जाने की पु...

View all

वीडियो

View all

बॉलीवुड

Prev Next