वन मंत्री बताए-क्यों लगातार मर रहे हैं बाघ...केंद्र सरकार ने मांगा जवाब

PUBLISHED : Feb 27 , 9:05 AMBookmark and Share

komal sharma

भोपाल-प्रदेश में बाघों की मौत के मामलों में लगातार इज़ाफा हो रहा है । पिछले कई महीनों से कोई बाघ शिकारी के चपेट में आकर अपनी जान से हाथ धो बैठा तो कोई बाघ किसानों के गुस्से का शिकार होकर मौत के आगोश में समां गया । कुलमिलाकर पिछले एक साल में प्रदेश के 12 बाघों को मौत के घाट उतार दिया गया । लेकिन वन विभाग के मुखिया वन मंत्री सरताज सिंह के लिए तो अब बाघों की मौत आम बात हो गई है । शायद यही कारण है कि केंद्र की वन मंत्री जयंति नटराजन द्वारा बाघों की मौत पर हो रही लापरवाही का जवाब मांगने के लिए भेजे गए पत्र को वन मंत्री मामूली सी लिखा पढ़ी मानते हैं। उनका मानना है कि बाघों को करंट से मार देने की घटना पर रोक लगाना मुश्किल हैं । हालांकि एक बार फिर वन मंत्री ने कड़ी मानीटरिंग करने का दावा कर मामले की गंभीरता को टाल है। वहीं वन प्रेमी बाघों के साथ घट रही इस तरह की घटनाओं के लिए वन मंत्री को जिम्मेदार मान रहे हैं । उनका कहना है कि केंद्र द्वारा पूरा फंड देने के बाद भी अब तक प्रदेश में टाइगर प्रोटेक्शन फोर्स नही बनाया गया..वहीं शिकारियों को सजा भी नही मिल पा रही है और उन्हें कोई और नही बल्कि वन विभाग के अधिकारी ही बचाने की कोशिश करते हैं ।ताज्जुब की बात ये है कि केंद्र सरकार द्वारा भेजी गई चिट्ठी के बाद भी प्रदेश में तीन बाघों को मौत हो चुकी है । ऐसे में कहीं ना कहीं वन मंत्री की कार्यप्रणाली पर ही सवाल खड़े हो गए हैं ।

लाइफ स्टाइल

Health Tips : आजमा कर देखें, असरदार दवा है म्यूजिक...

PUBLISHED : Oct 10 , 7:06 PM

कल्पना कीजिए... सुबह-सुबह का समय... पक्षियों की चहचहाहट और हवा की मधुर सरसराहट के बीच आप भी बगीचे में ध्यान लगा रहे हैं,...

View all

साइंस

शनि के पास अब सबसे अधिक 82 चांद, वैज्ञानिकों ने की...

PUBLISHED : Oct 10 , 7:15 PM

सौर मंडल के ग्रहों में चांद की संख्या के आधार पर अब शनि ग्रह विजेता है। शनि पर वैज्ञानिकों ने 20 नए चांद पाएम जाने की पु...

View all

वीडियो

View all

बॉलीवुड

Prev Next