आजादी के 70 साल: आस्था के नाम पर हिंसा अस्वीकार्य-मोदी

आजादी के 70 साल: आस्था के नाम पर हिंसा अस्वीकार्य-मोदी

PUBLISHED : Aug 15 , 11:59 AMBookmark and Share

आजादी के 70 साल: आस्था के नाम पर हिंसा अस्वीकार्य-मोदी



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ देश की लड़ाई जारी रहेगी। प्रधानमंत्री स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले से देश को संबोधित कर रहे थे। मोदी ने कहा, “देश में लूटपाट का कोई स्थान नहीं रहेगा। भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी।” उन्होंने कहा, अपनी आस्था के नाम पर हिंसा करने जैसी घटनाएं अस्वीकार्य हैं। 

उन्होंने लाल किला पर स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दिए अपने भाषण में कहा, “आस्था के नाम पर हिंसा प्रसन्न होने की बात नहीं है। भारत में यह स्वीकार नहीं किया जाएगा। भारत शांति, एकता और सौहार्द का देश है। जातिवाद और सांप्रदायिकता से हमें कुछ लाभ नहीं होगा।” मोदी ने कहा, “जातिवाद और सांप्रदायिकता का जहर हमारे देश के लिए कभी फायदेमंद साबित नहीं हो सकता और इसका समर्थन नहीं किया जाना चाहिए।”

1- बच्चों की मौत- प्रधानमंत्री ने भाषण के शुरुआत में भी बच्चों की मौत पर संवेदना व्यक्त करते हुए कहा सवा सौ करोड़ देशवासियों की संवेदना उनके साथ है।

2- न्यू इ्ंडिया- सामूहिक संकल्प और प्रतिबद्धता के साथ 2022 में एक नये भारत का संकल्प लेकर देश को आगे बढ़ाना है।

3- देश में ईमानदारी का उत्सव मनाया जा रहा है, बेईमानों को सिर छिपाने की जगह नहीं मिल रही और सरकार ने 800 करोड़ रपये की बेनामी संपित्त जब्त की।

4- प्रधानमंत्री ने जीएसटी की सफलता सराहा, इतने कम समय में इतने बड़े देश में जीएसटी लागू होने पर उन्होंने गर्व जताया।

5- कश्मीर समस्या का समाधान न गाली से होगा, न गोली से होगा बल्कि कश्मीरियों को गले लगाकर होगा, सरकार इसके लिये संकल्पबद्ध।

6- सरकार ने पुरानी अटकी पड़ी परियोजनाओं को आगे बढ़ाने के लिये प्रयास तेज किये और नई तकनीक का इस्तेमाल किया।

7- नोटबंदी को लोगों का समर्थन मिला और हम भ्रष्टाचार पर नकेल कसने में सफल हो रहे हैं

8- गरीबों को नि:शुल्क गैस कनेक्शन देने की उज्ज्वला योजना, स्वच्छता अभियान समेत सभी क्षेत्रों में देशवासियों का सरकारी योजनाओं को समर्थन मिला: मोदी

9- किसान को बीज से लेकर बाजार तक की सुविधा उपलब्ध कराने के लिये एफडीआई नीति को उदार बनाने सहित अनेक कदम उठाये गये।

10- पिछले तीन साल में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत करोड़ों नौजवानों ने अपने पैरों पर खड़े होकर रोजगार के अवसर पैदा किये।

11- आस्था के नाम पर हिंसा ठीक नहीं, जातिवाद का जहर देश का भला नहीं कर सकता, हमें शांति, एकता और सदभाव के साथ आगे बढ़ना है।

12- करीब नौ करोड़ किसानों को मदा कार्ड और 2़5 करोड़ गरीब महिलाओं को एलपीजी गैस कनेक्शन दिये गये।

13-आतंकवाद या आतंकवादियों को लेकर नरमी का कोई सवाल नहीं, हम जम्मू कश्मीर को फिर से धरती का स्वर्ग बनाने के लिये संकल्पबद्ध हैं।

14- तीन तलाक के खिलाफ पीड़ित महिलाओं ने एक आंदोलन की शुरुआत की और पूरा देश उनके साथ है।

15- हम सब मिलकर एक ऐसा भारत बनाएंगे, जहां गरीब के पास पक्का घर होगा, बिजली होगी, पानी होगा।

लाइफ स्टाइल

Covid-19 से बचना है तो धूम्रपान से करें तौबा वरना ...

PUBLISHED : Apr 20 , 10:50 PM

किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय (केजीएमयू) लखनऊ की कोरोना टास्क फोर्स के सदस्य डॉ़ सूर्यकान्त ने कहा है कि कोरोनावाय...

View all

साइंस

कोरोना वायरस: Lockdown के कारण लोग घरों में बैठे ह...

PUBLISHED : Apr 20 , 10:54 PM

नई दिल्‍ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण दुनिया भर में लोग लॉकडाउन के कारण अपने घरों में बैठे हैं. इससे वायु प्रदू...

View all

वीडियो

View all

बॉलीवुड

Prev Next