कस्तूरबा अस्पताल की छत गिरी...कई घायल..दो के मौत कूी हुई पुष्टी

PUBLISHED : Apr 27 , 9:30 AMBookmark and Share

राजधानी भोपाल में शुक्रवार को बीएचईएल के कस्तूरबा अस्पताल की छत गिरने से कई मरीज घायल हो गए और दो लोगों की मौत की पुष्टी भी हुई है। इस अस्पताल की महिला वॉर्ड की छत गिरने के कारण आशंका जताई जा रही है कि मलबे में अधिकतर महिलाएं और बच्चे हो सकते हैं। यह असप्ताल 1975 में बना था। महिला वॉर्ड में 26  बेड थे जो पूरी तरह से मलबे में दब गए हैं। अब तक मलबे से 12 लोगों को जिंदा निकाला जा चुका  जबकि दो की मौत हो चुकी है। मलबे से निकाले 5 लोगों की हालात गंभीर। उन्हें नर्मदा ट्रामा में रिफर किया गया है। आशंका जताई जा रहूी है की मरने वालों की संख्या बढ़ भी सकती है ।
 
कस्तूरबा अस्पताल में इस वक्त लोगों की आवाजाही रोक दी गई है। अस्पताल इस वक्त  घायलों को इलाज के लिए जे.पी.में अस्पताल भेजा जा रहा है। वहीं कस्तूरबा अस्पातल की इमारत का मलबा जेसीबी से हटाया जा रहा है। बताया जा रहा है कि अस्पातल में निर्माण का काम चल रहा था। महिला वार्ड के नीते की मंजिल पर टाइल्स लगाई जा रही थी। 
 
 
कुछ देर पहले तक मलबे से घायलों की आवाजें आ रही थीं लेकिन अब कोई आवाज नहीं आ रही है। कोशिश की जा रही है कि जल्द से जल्द यह सुनिश्चित कर लिया जाए कि मलबे से सारे लोग निकाल लिए गए हैं। 
 
 
नगरीय प्रशासन मंत्री बाबूलाल गौर और महापौर कृष्णा गौर सहित प्रशासन के कई मौके पर मौजूद हैं। मौके पर 6 एंबुलेंस, फायरब्रिगेड और जेसीबी पहुंची हैं। 

लाइफ स्टाइल

Health Tips: ब्लड प्रैशर को संतुलित रखते हैं ये यो...

PUBLISHED : Oct 18 , 6:04 PM

आज की भागमभाग भरी लाइफ में छोटी छोटी समस्‍याएं कब टेंशन बढ़ा कर आपको बीपी का मरीज बना देती हैं। लेकिन योग में आपकी इस सम...

View all

साइंस

गुड न्यूज: रिसर्चरों का दावा, हार्ट अटैक रोकने की ...

PUBLISHED : Oct 18 , 6:17 PM

रिसर्चरों ने एक ऐसी संभावित दवा विकसित की है, जो दिल के दौरे का इलाज करने और हृदयघात से बचाने में कारगर है। इन दोनों ही ...

View all

वीडियो

View all

बॉलीवुड

Prev Next