अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की व्यवस्थाएँ करें वैचारिक महाकुंभ में

अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की व्यवस्थाएँ करें वैचारिक महाकुंभ में

PUBLISHED : May 07 , 8:44 AMBookmark and Share


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निनोरा में तैयारियों की समीक्षा की

 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने उज्जैन जिले के निनोरा में 12 से 14 मई तक आयोजित होने वाले वैचारिक महाकुंभ में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि वैचारिक महाकुम्भ में शामिल होने वाले प्रत्येक देशी-विदेशी मेहमान एवं विद्वान का पूरा सम्मान और सत्कार किया जाये। सभी विभाग दिये गये दायित्वों को पूर्ण करें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज निनोरा में महाकुंभ की तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। आयोजन में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी, दो देश के राष्ट्राध्यक्ष, 13 देश के राजदूत, 121 अन्तर्राष्ट्रीय विद्वान और 734 भारतीय विद्वान शिरकत करेंगे। साथ ही कई प्रदेश के मुख्यमंत्री और केन्द्रीय मंत्री आदि भी शामिल होंगे।

आयोजन समिति की बैठक में संस्कृति राज्य मंत्री श्री सुरेंद्र पटवा, मुख्य सचिव श्री अंटोनी डिसा, सिंहस्थ केन्द्रीय समिति के अध्यक्ष श्री माखन सिंह, आयोजन समिति के अध्यक्ष श्री अनिल माधव दवे, सांसद डॉ.चिन्तामणि मालवीय सहित कई विभाग के अपर मुख्य सचिव तथा प्रमुख सचिव एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

मेहमानों के रुकने के लिये इन्दौर के 19 होटल में 1020 कमरे आरक्षित किये गये हैं। आयोजन स्थल पर आठ हेलीपेड बनाये जा रहे हैं। आवागमन के लिये 30 एसी कोच एवं 350 कार बुक की गई हैं। मेहमानों का एयरपोर्ट एवं रेलवे स्टेशन पर तिलक लगाकर एवं माला पहनाकर स्वागत किया जायेगा। होटल पहुँचने पर उनका शाल-श्रीफल के साथ सम्मान किया जायेगा। हर मेहमान की व्यवस्था के लिये एक नोडल अधिकारी नियुक्त रहेगा।

प्रचार-प्रसार एवं मीडिया कव्हरेज के लिये एक सर्वसुविधायुक्त मीडिया सेन्टर भी जनसम्पर्क विभाग द्वारा निनोरा में बनवाया जा रहा है। आयोजन के लिये भव्य एवं कलापूर्ण सभा कक्ष बनवाया जा रहा है। इसका नाम विक्रमादित्य सभा कक्ष रखा गया है। अन्य छोटे सभा कक्ष का नाम कालिदास एवं सांदीपनि सभा कक्ष रखा जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि आयोजन में भव्यता के साथ दिव्यता भी रहे। शिविर-स्थल पर एक आकर्षक एवं आधुनिक प्रदर्शनी का लगायी जायेगी। मेहमानों को क्षिप्रा-स्नान एवं मेला भ्रमण की व्यवस्था किये जाने के निर्देश भी मुख्यमंत्री ने दिये।

लोक निर्माण विभाग आयोजन स्थल पर 15 हेक्टेयर में पार्किंग स्थल, साढ़े तीन किलोमीटर बेरिकेडिंग एवं ढाई किलोमीटर का मार्ग बनवायेगा। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा दो आर ओ प्लांट भी आयोजन स्थल पर लगाये जा रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रुकने के लिये एक प्राकृतिक पर्ण कुटी बनाई गई है। इसका नाम 'पंचवटी' रखा गया है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान भी ऐसी एक पर्ण कुटी में रुकेंगे, इसका नामकरण 'चित्रकूट'' किया गया है। कार्यक्रम स्थल पर प्राकृतिक सुन्दरता का विशेष ध्यान रखा जा रहा है।

लाइफ स्टाइल

अगर रात में स्मार्टफोन पास रखकर सोते है तो जरूर प...

PUBLISHED : Dec 13 , 9:48 PM

स्मार्टफोन के अधिक उपयोग से हमारे मन की स्थिति तो प्रभावित हो ही रही है, अब इसका असर लोगों के यौन जीवन पर पड़ने की बात भी...

View all

साइंस

दुनिया में बढ़ती गर्मी से उजड़ सकता है मत्स्य जीवन...

PUBLISHED : Dec 13 , 10:01 PM

दुनिया में तेजी से हो रहे जलवायु परिवर्तन के कारण मत्स्य उद्योग और प्रवाल भित्ति पर्यटन बर्बाद हो सकता है जिससे वर्ष 205...

View all

वीडियो

View all

बॉलीवुड

Prev Next