सरकारी लोगों ने ही नकारा कमलनाथ को

सरकारी लोगों ने ही नकारा कमलनाथ को

PUBLISHED : May 27 , 9:09 AMBookmark and Share

सरकारी लोगों ने ही नकारा कमलनाथ को

29 में से 28 सीटों पर कर्मचारियों ने भाजपा को चुना

कमलनाथ को नकारा सरकारी तंत्र ने



भोपाल।मध्यप्रदेश के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को सरकारी कर्मचारियों और अधिकारियों ने पूरी तरह नकार दिया है। डाक मत पत्रों के परिणाम तो यही हकीकत बयां कर रहे हैं।बता दें कि कमलनाथ सरकार गठित होने के बाद तबादलों पर ही 4 महीने चली, सरकार बनने के बाद से ही भाजपा से मिले अफसरों की लिस्ट बनाओ, पद से हटाओ, तबादले करो जैसे कामों को अंजाम दिया। इतना ही नहीं कर्मचारियों के डीए और एरियर देने में भी विलंब किया गया। इसी के चलते कर्मचारियों ने एक बार फिर कांग्रेस को झटका देकर सावधान कर दिया है।
मध्यप्रदेश की 29 में 28 लोकसभा सीटों पर कर्मचारियों के डाक मतपत्र भाजपा के पक्ष में नजर आए। कर्मचारियों ने भी सभी 28 सीटों पर कांग्रेस को हराया, भाजपा को जिताया।

दिग्विजय सिंह ने 2 बार माफी मांगी, लेकिन नहीं मिली
भोपाल में दिग्विजय सिंह ने कर्मचारियों से 2 बार माफी मांगी। कई घोषणाएं भी कीं परंतु उनकी तमाम कोशिशों नाकाम रहीं। इन्हें मात्र 381 कर्मचारी वोट मिले, जबकि भाजपा की साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को 1270 मत देकर उन पर भरोसा जताया है। सिर्फ छिंदवाड़ा लोकसभा और विधानसभा सीट ही ऐसी रही, जहां कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री कमलनाथ और नकुलनाथ को भाजपा की तुलना में ज्यादा मत दिए।

आउटसोर्स कर्मचारियों को भाजपाई बताकर नुक्सान उठाया
चुनाव के समय कांग्रेस ने जो आशंका जाहिर की थी वो मतगणना में साफ हो गई। कई कांग्रेस नेताओं ने सरकार को यह संदेश दिया था कि ब्यूरोक्रेसी साथ नहीं दे रही है। बिजली कटौती का जब हल्ला मचा तो सरकार एक्शन में आई और आनन-फानन में कार्रवाईयां की गईं। ठेके पर नौकरी कर रहे कईयों की सेवाएं समाप्त कर दी गईं। वहीं, यह भी संदेश दिया गया कि ठेके पर काम कर रहे कर्मचारी दल विशेष से अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े हुए हैं और सरप्लस बिजली होने के बाद भी अद्योषित कटौती करके सरकार के खिलाफ माहौल खड़ा करने की जुगत में लगे हैं। भोपाल से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह ने भी मंच से कहा कि ऐसे किसी कर्मचारियों को बख्शा नहीं जाएगा। मुख्यमंत्री ने भी कांग्रेस पदाधिकारियों की बैठक में भी इसी तरह के संकेत दिए।

कर्मचारियों ने कहां किसको कितने वोट दिए
छिंदवाड़ा विधानसभा- 2701-कांग्रेस 1951भाजपा 726
छिंदवाड़ा लोकसभा-1821-कांग्रेस 754 भाजपा- 303
बालाघाट-5133-भाजपा-3243-कांग्रेस 1358
बैतूल-1277-भाजपा 1011-कांग्रेस 205
भोपाल-1718-भाजपा 1270-कांग्रेस 381
दमोह-434-भाजपा 303-कांग्रेस 97
देवास-2202-भाजपा 1721-कांग्रेस 423
धार-1587-भाजपा 1122-कांग्रेस 431

ग्वालियर-3570-भाजपा 244-कांग्रेस 926
गुना- 5796-भाजपा 3194-कांग्रेस 2395
होशंगाबाद-1190-भाजपा 1016-कांग्रेस 106
इंदौर-2372-भाजपा 1745-कांग्रेस 547
जबलपुर-962-भाजपा780-कांग्रेस 148
खजुराहो-1013-भाजपा 725-कांग्रेस 227

खंडवा-1797-भाजपा 940-कांग्रेस 805
खरगौन-1013-भाजपा 725-कांग्रेस 227
मंडला-3296-भाजपा 1901-कांग्रेस 1220
मंदसौर-2431-भाजपा 1842-कांग्रेस 524
मुरैना-4522-भाजपा 3833-कांग्रेस 458
राजगढ़-2269-भाजपा 1599-कांग्रेस 645

रतलाम-3054-भाजपा 1860-कांग्रेस 1058
रीवा-00-भाजपा 00- कांग्रेस 00
सागर-1301-भाजपा 893-कांग्रेस 354
सतना-1740-भाजपा 1343-कांग्रेस 307
शहडोल-3085-भाजपा 1855-कांग्रेस 1091

सीधी-1759-भाजपा 1130-कांग्रेस 536
टीकमगढ़-1777-भाजपा 1281-कांग्रेस 413
उज्जैन-2046-भाजपा 1456-कांग्रेस 517
विदिशा-3835-भाजपा 2579-कांग्रेस 1123
नोट:- आंकड़े सिर्फ डाक मतपत्रों के हैं।

लाइफ स्टाइल

Health Tips : खाने की ये 5 बुरी आदतें भी हो सकती ह...

PUBLISHED : Oct 20 , 8:58 PM

आपने ऐसे कई लोगों को देखा होगा, जो मुंहासों या पिम्पल की समस्या से परेशान रहते हैं। ऐसे में उनके चेहरे पर पिम्पल के निशा...

View all

साइंस

गुड न्यूज: रिसर्चरों का दावा, हार्ट अटैक रोकने की ...

PUBLISHED : Oct 18 , 6:17 PM

रिसर्चरों ने एक ऐसी संभावित दवा विकसित की है, जो दिल के दौरे का इलाज करने और हृदयघात से बचाने में कारगर है। इन दोनों ही ...

View all

वीडियो

View all

बॉलीवुड

Prev Next